HealthIndiaLife & StyleMumbaiTv

टूना फिश खाने के पांच फायदे इम्यूनिटी, हार्ट और मोटापा समेत

tuna fish for strong immunity and healthy heart pur– News18 Hindi

मछली (फिश) का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. फिश में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर को कई बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं. आज हम आपको एक ऐसी ही विशेष प्रकार की फिश के बारे में बता रहे हैं. टूना फिश एक विशेष प्रकार की मछली है. ये नमकीन पानी यानि समुद्र में पाई जाने वाली फिश में से एक है. इसकी लंबाई लगभग 1 फिट से 15 फिट तक की होती है. टूना फिश का स्वाद भी काफी लाजवाब होता है. आपको बता दें कि टूना फिश में कैल्शियम, विटामिन-डी, ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन बी, प्रोटीन, आयरन, पॉलीअनसैचुरेटेड, विटामिन ई और मैग्नीशियम के गुण पाए जाते हैं, जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं. अगर आपको नॉनवेज खाना पसंद हैं तो टूना फिश को डाइट में शामिल करें. ये हार्ट को हेल्दी रखने और इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मददगार है.

मछली का सेवन हेल्थ के लिए है बेहद फायदेमंद, स्ट्रेस से जुड़ा है कनेक्शन

1. हार्टः
हार्ट को हेल्दी रखने के लिए टूना फिश को डाइट में शामिल करें. टूना में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हार्ट संबंधी समस्याओं को दूर कर हार्ट को हेल्दी रखने में मदद कर सकता है.

2. हड्डियोंः
टूना फिश में कैल्शियम, विटामिन-डी और मैग्नीशियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जो हड्डियों के लिए अच्छे माने जाते हैं. टूना फिश को डाइट में शामिल कर हड्डियों को कमजोर होने से बचा सकते हैं.

3. इम्यूनिटीः
आज के समय में शायद ही कोई ऐसा हो जो इम्यूनिटी के महत्व को ना समझता हो. इम्यूनिटी वायरस संक्रमण से बचाने में मददगार है. इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए आप अपनी डाइट में टूना फिश को शामिल कर सकते हैं.

4. आंखोंः
आंखों को हेल्दी रखने के लिए विटामिन्स और पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है. अगर आप अपनी आंखों को हेल्दी रखना चाहते हैं तो आप अपनी डाइट में टूना फिश को शामिल कर सकते हैं

5. वजन घटानेः
फिश ऑयल को पेट की चर्बी कम करने के लिए अच्छा माना जाता है. इतना ही नहीं टूना फिश में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. जिसके सेवन से बढ़े हुए वजन को आसानी से कम कर सकते हैं.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close